विदेशी पर्यटकों को उत्तराखंड में मिलेगी 40 फीसदी छूट!

Help spreading this news
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

DEHRADUN:देवभूमि उत्तराखंड में विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के पर्यटन विभाग ने बड़ा फैसला लिया है. जिसके तहत अब सरकार पर्यटकों को 40 परसेंट तक डिस्काउंट देगी. इसके लिए बकायदा  Uttarakhand Tourism Department  ने सभी देशों के दूतावास के अलावा पूरे विभाग में सर्कुलर जारी कर दिया है. विभाग द्वारा इसी सीजन से यह छूट विदेशी पर्यटकों को दी जाएगी. विभागीय अधिकारीयों की माने तो प्रदेश में पर्यटन और धार्मिक स्थलों के विकास के लिए सरकार विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने का प्रयास कर रही. कुछ दिनों पहले सीएम से मिलने आए मॉरिशस के टूरिस्टस ने प्रदेश में सुविधाएं न मिलने को इस बात को उठाया था.  जिसके बाद सरकार ने पर्यटन विभाग को विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए योजना बनाने के निर्देश दिए. पर्यटन विभाग ने GMVN/ KMVN गढ़वाल मंडल विकास निगम, कुमाऊं मंडल विकास निगम के अलावा सरकारी बंगलों, गेस्ट हाउस में निवास करने और निगमों के वाहनों का उपयोग करने पर विशेष छूट देने का निर्णय लिया है. इस संबंध में पीक सीजन में भ्रमण पर आने वाले विदेशी पर्यटकों को विश्राम करने पर 25 फीसद और ऑफ सीजन में 35 फीसद छूट दिए जाने का निर्णय लिया है. इसी तरह निगम के वाहनों का उपयोग करने पर भी 35 से 40 फीसद छूट दिए जाने का निर्णय लिया गया है.

देश के दूतावासों में सर्कुलर जारी

इस संबंध में प्रदेश के पर्यटन विभाग ने सभी देशों के दूतावास के अलावा टूरिज्म डिपार्टमेंट को छूट संबंधी सर्कुलर भेज दिया है. यह सर्कुलर राज्य की सभी टूर एंड ट्रैवलर एजेंसी को भी जारी कर दिया गया है. ताकि विदेशी पर्यटकों को यहां आने के लिए प्रेरित किया जा सके. गढ़वाल मंडल विकास निगम विदेशी पर्यटकों को ऋषिकेश, हरिद्वार और अन्य गंगा तटों वाले कस्बों में गंगा आरती में शामिल होने को भी आकर्षित करेगा. आरती में शामिल होने के लिए विदेशी पर्यटकों को कोई अलग से शुल्क नहीं देना होगा. GMVN के ऋषिकेश स्थित बंगलों में स्टे के दौरान विदेशी पर्यटकों को योगा की कक्षाएं भी दी जाएंगी. इसके अलावा चारधाम यात्रा भ्रमण के दौरान निगम के टूर पैकेज लेने पर नि:शुल्क गाइड की व्यवस्था रहेगी.


Help spreading this news
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Facebook Comments

error: Content is protected !!