नन्ही परी आरुषि को मिली ज़िंदगी और विधायक मनोज रावत को दुवायें। Postmanindia

Help spreading this news
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

राजनैतिक दल और विचारधारा अपनी जगह है पर जनप्रतिनिधि अपने काम को बखूबी करे तो उस बात की तारीफ़ करना तो बनता है. जनता के सुख-दुख में साथ देना ही एक जनप्रतिनिधि की जिम्मेदारी है लेकिन आज के दौर में ऐसे जनप्रतिनिधि मुश्किल से ही मिलते हैं. पर उन चंद लोगों में से एक हैं केदारनाथ विधानसभा क्षेत्र के विधायक मनोज रावत जो कि अपनी कार्यशैली से सबके दिलों में जगह बनाते जा रहे हैं. दरसल रुद्रप्रयाग जिले स्थित केदारनाथ विधानसभा के ग्राम- बष्टी, विकासखंड – अगस्त्यमुनि की एक छोटी सी बच्ची जिसका नाम आरुषि वह एक गंभीर बीमारी से इस समय जूझ रही है. आरुषि को किडनी संबंधी समस्या है. पिता की आर्थिक स्थिति ठीक न होने की वजह से आरुषि का सही इलाज नहीं हो पा रहा था. इस पूरे मामले की जानकारी जैसे ही केदारनाथ विधायक मनोज रावत मिली, तो विधायक ने बच्ची को देहरादून इलाज के लिये भिजवा दिया, जहां उसका उपचार जारी है. विधायक लगातार बच्ची की तबीयत के बारे में जानकारी ले रहे हैं.

विधायक मनोज रावत ने बताया कि उन्हें बच्ची के बारे में सोशल मीडिया और करीबियों के जरिए जानकारी मिली. जिसके बाद उन्होंने तत्काल आरुषि के घर जाकर हाल-चाल जाना और उसकी पहले की सभी रिपोर्ट भी देखीं. इसके बाद उसे जौलीग्रांट अस्पताल भेज दिया गया, जहां बच्ची का उपचार चल रहा है. उसके परिजनों को विश्वास दिलाया गया है कि बच्ची को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी. आज विधायक मनोज रावत ने आरुषि का हाल जानने के बाद आरुषि के साथ तस्वीर साझा की जिसमें आरुषि अब स्वस्थ्य नज़र आ रही है. केदारनाथ विधायक के इस प्रयास की हर कोई सराहना कर रहा है.

दरअसल आरुषि गंभीर बीमारी से जूझ रही है. आरुषि के पूरे शरीर और फेफड़ों में पानी भर गया है, जिसकी वजह से उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही है. इसके साथ ही आरुषि की किडनी भी खराब हो चुकी है. ऐसे में आरुषि को जल्द वेंटिलेटर और डायलिसिस की जरूरत थी. आरुषि के पिता मजदूरी कर परिवार का भरण-पोषण करते हैं. ऐसे में पैसों की दिक्कत की वजह से आरुषि का इलाज रुक गया था. मजबूरी में श्रीनगर हॉस्पिटल से आरुषि को घर लाना पड़ा था. परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने की वजह से आरुषि का सही तरीके से इलाज नहीं हो पा रहा था. श्रीनगर हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने आरुषि को देहरादून और एम्स ऋषिकेश में दिखाने की बात कहकर हाथ खड़े कर दिए थे. आरुषि की तबीयत लगातार बिगड़ती जा रही थी लेकिन अब केदारनाथ विधायक की मदद के बाद आरुषि के जल्द स्वस्थ होने की उम्मीद जताई जा रही है.


Help spreading this news
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Facebook Comments

error: Content is protected !!