एक दिन का विधानसभा सत्र, महज 3 घंटे 6 मिनट में 19 विधेयक पास ।Postmanindia

Help spreading this news
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

उत्तराखंड विधानसभा में हो हंगामे के बीच 1 दिन का मानसून सत्र अनिश्चित काल के लिए स्थगित हो गया है. बड़ी बात यह रही कि 1 दिन के मॉनसून सत्र में सरकार ने महज 3 घंटे 6 मिनट में 19 विधेयकों को पास करा दिया. जिसके बाद दोपहर बाद करीब 4 बजे विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान ने सत्र के अनिश्चित काल के लिए स्थगित होने की घोषणा की.

विधानसभा उपाध्यक्ष ने बताया कि सदन में पूर्व निश्चित विषय कोविड, आपदा, कानून व्यवस्था, रोजगार और महगाई विषय पर चर्चा की गई. सदन में कुल 19 विधेयक पास किये गये. जिसमें एक विषय विशेषाधिकार हनन का आया था उसपर जाॅच की जायेगी. कुल 42 विधायक सदन से और 14 विधायक वर्चुवल जुडे थे. जिसमें परिवहन मंत्री यशपाल आर्य भी शामिल हैं. सदन की कार्यवाही 03 घण्टे 06 मिनट चली और 2 घण्टे 09 मिनट कार्य वाही बाधित रही.

ये विधेयक हुए सदन में पास

  • उत्तराखंड राज्य विधानसभा सदस्यों की उपलब्धियों और पेंशन संशोधन विधेयक 2020
  • हेमंती नंदन बहुगुणा चिकित्सा शिक्षा विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक 2020
  • उत्तराखंड राज्य कृषि उपज और पशुधन विपणन प्रोत्साहन एवं सुविधा विधेयक 2020
  • महामारी संशोधन विधेयक 2020
  • उत्तराखंड राजकोषीय उत्तरदायित्व और बजट प्रबंधन संशोधन विधेयक 2020
  • उत्तराखंड माल एवं सेवा कर संशोधन विधेयक 2020
  • 7 उत्तराखंड पंचायती राज वित्तीय संशोधन विधेयक 2020
  • उत्तराखंड उत्तर प्रदेश तथा विधान मंडल अधिकारियों के वेतन तथा भत्ते संशोधन विधेयक 2020
  • बोनस संदाय उत्तराखंड संशोधन विधेयक 2020
  • व्यवसाय संघ उत्तराखंड संशोधन विधेयक 2020
  • औद्योगिक विवाद उत्तराखंड संशोधन विधेयक 2020
  • उत्तराखंड उत्तर प्रदेश औद्योगिक विवाद अधिनियम 1947 संशोधन विधेयक 2020
  • कारखाना उत्तराखंड संशोधन विधेयक 2020
  • उत्तराखंड जौनसार बाबर जमीदारी विनाश और भूमि व्यवस्था अधिनियम 1956 संशोधन विधेयक 2020
  • उत्तराखंड उत्तर प्रदेश जमीदारी विनाश और भूमि व्यवस्था अधिनियम 1950 संशोधन विधेयक 2020
  • उत्तराखंड राज्य विश्वविद्यालय विधेयक 2020
  • उत्तराखंड तकनीकी विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक 2020

Help spreading this news
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Facebook Comments

error: Content is protected !!