उत्तराखंड के इस IAS अफ़सर के नाम पर होगा स्पैन की नई चोटी का नाम ।Postmanindia

Help spreading this news
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

उत्तराखंड के लिए एक गौरवानित करने वाला पल है. प्रदेश के 2012 बैच के युवा IAS अफसर के नाम पर स्पेन में एक चोटी का नाम रखा गया है. जी हाँ उत्तरकाशी के पूर्व डीएम और वर्तमान में नागरिक उड्डयन अपर सचिव डॉ आशीष चौहान के कार्यशैली से प्रभावित होकर स्पेन के एक पर्वतारोही ने उत्तराखंड के इस अफसर को शानदार इनाम दिया है. दरअसल डॉ आशीष चौहान द्वारा बतौर उत्तरकाशी DM रहते स्पेनिश नागरिक एवं पर्वतारोही अंटोनिओ की सहायता की गई थी. जिसके बाद से अंटोनिओ उनका और उनकी कार्यप्रणाली का मुरीद हो गए. 15 अगस्त को उस स्पेनिश नागरिक अंटोनिओ के द्वारा डॉ आशीष चौहान को सूचना दी गयी की स्पेन के एक वर्जिन शिखर ( अभी तक आरोहित नहीं) का नाम मजिस्ट्रेट पॉइंट / टॉप तथा उस ट्रेक का नाम वाया आशीष रख दिया गया है.

अपने इस गौरवान्वित समाचार को सोशल मीडिया फेसबुक के माध्यम से साझा करते हुए डॉ आशीष चौहान ने यह जानकारी साझा की है. “आज के शुभ अवसर पर एक सुखद सूचना आपके साथ साझा करते हुए मुझे गौरव की अनुभूति हो रही है. उत्तरकाशी जनपद के कार्यकाल में मेरे द्वारा एक स्पेनिश पर्वतारोही की सहायता की गयी थी, आज उन्होंने यह सूचना दी है कि उनके द्वारा स्पेन के एक Virgin शिखर पर सफल आरोहण के पश्चात उसका नाम magistrate point/tip तथा मार्ग का नाम via ashish रखा जा रहा है. एक भारतीय प्रशासनिक सेवा के एक magistrate के रूप में उनके द्वारा दिये जा रहे इस सम्मान के लिए मैं स्पेन के पर्वतारोही दल का आजीवन आभारी व कृतज्ञ रहूँगा”

उत्तराखंड के IAS अफसर डॉ आशीष चौहान के काम बूते आज जनता के बीच उनके मृदुल व्यवहार को हमेशा याद रखा गया है. यही कारण है कि सैट समंदर पार के लोग भी उनके काम के मुरीद हो गये. डॉ आशीष चौहान वर्ष 2012 बैच के अधिकारी हैं. उनकी पहली पोस्टिंग नैनीताल के उपजिलाधिकारी के साथ , पिथौरागढ़ के मुख्य विकास अधिकारी और फिर उत्तरकाशी के जिलाधिकारी के रूप में लोगों के दिलों में बस गयी. और अब तो विदेश में भी उनके कार्य की सराहना के साथ उनकी कार्यप्रणाली को पुरूस्कार के रूप में उनका ही नाम दे दिया गया. निश्चित रूप से यह अभिनन्दन पूरे उत्तराखंड के लिए भी गौरवान्वित करने वाला पल है , कि उसके एक प्रशासनिक अधिकारी की उत्कृष्ट कार्यशैली ने उसे विश्व पटल पर अपनी अनूठी पहचान दिलाई.


Help spreading this news
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Facebook Comments

error: Content is protected !!