27.2 C
Dehradun
Thursday, July 18, 2024

तमिलनाडु में जहरीली शराब से 47 लोगों की मौत, 30 की हालत गंभीर; अन्नामलाई ने CBI जांच की मांग की

चेन्नई। तमिलनाडु में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 47 हो गई और 30 लोगों की हालत गंभीर बनीं हुई है। कल्लाकुरिची डीएम प्रशांत एमएस ने कहा कि गुरुवार तक मरने वाले 29 लोगों के शव उनके रिश्तेदारों को सौंप दिए गए है। उन्होंने कहा कि शवों को या तो दफना दिया गया या उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया है।
घटना के बाद से राज्य की स्टालिन सरकार की मुश्किलें काफी बढ़ गई हैं। विपक्षी दल घटना की जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री स्टालिन से इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। तमिलनाडु सरकार ने घटना की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। डीएम प्रशांत एमएस ने कहा कि जहरीली शराब पीने के बाद कुल 165 लोगों को कल्लाकुरिची, जेआईपीएमईआर, सेलम और मुंडियामबक्कम सरकारी अस्पतालों में भर्ती कराया गया था। इनमें से अब तक 47 की मौत हो चुकी है। इलाज करा रहे 118 लोगों में से 30 की हालत गंभीर बनीं हुई है। तीन प्रभावित व्यक्ति ठीक हो गए हैं।
पत्रकारों से बात करते हुए डीएम ने कहा कि जिले में अवैध शराब की बिक्री को रोकने के लिए विशेष टीमों का गठन किया गया है और उन्हें गहन तलाशी अभियान चलाने के लिए कहा गया है। मद्रास हाई कोर्ट के सेवानिवृत्त जज जस्टिस बी गोकुलदास इस घटना की जांच के लिए एक सदस्यीय आयोग का नेतृत्व कर रहे हैं।
जस्टिस गोकुलदास (सेवानिवृत्त) ने कहा कि उन्होंने कल्लाकुरिची जहरीली शराब त्रासदी की जांच शुरू कर दी है। रिपोर्ट तीन महीने में सौंपी जाएगी। राज्य के भाजपा नेता अन्नामलाई ने गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर घटना की सीबीआई जांच की मांग की है। अन्नामलाई ने द्रमुक सरकार पर शराब विक्रेताओं से मिलीभगत का आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी के लोगों के इशारे पर अवैध शराब बनाई और बेची जा रही है। उन्होंने 22 जून को स्टालिन सरकार के खिलाफ राज्यव्यापी प्रदर्शन की घोषणा की है। वहीं, विपक्ष के नेता एके पलानीस्वामी के नेतृत्व में अन्नाद्रमुक सदस्यों ने जहरीली शराब त्रासदी पर धरना दिया। इसके बाद तमिलनाडु विधानसभा से अन्नाद्रमुक के सदस्यों को सामूहिक रूप से बाहर निकाल दिया गया। मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने अन्नाद्रमुक की आलोचना की और विपक्ष से इस गंभीर घटना से राजनीतिक लाभ नहीं लेने की अपील की।

spot_img

Related Articles

spot_img

Latest Articles

जम्मू-कश्मीर के डोडा में फिर मुठभेड़ शुरू, कास्तीगढ़ इलाके में आमना-सामना; सेना के दो...

0
जम्मू: जम्मू-कश्मीर के डोडा में फिर मुठभेड़ शुरू हो गई है। जम्मू-कश्मीर पुलिस के अनुसार अब कास्तीगढ़ इलाके में सुरक्षाबल और आतंकी आमने-सामने हैं।...

उत्तराखंड व हिमाचल में चार दिन भारी बारिश के आसार

0
नई दिल्ली: पहाड़ से लेकर मैदान तक मानसूनी बारिश और बाढ़ से हाहाकार मचा हुआ है। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू में भारी बारिश...

मुहर्रम के जुलूस में कई जगह लहराए गए फलस्तीनी झंडे

0
नई दिल्ली। मुहर्रम के मौके पर बुधवार को निकाले गए जुलूस के दौरान कुछ राज्यों में फलस्तीन के झंडे लहराए गए। इतना ही नहीं,...

कानून मंत्रालय ने सौ दिवसीय एजेंडे में की ‘सनसेट क्लॉज’ की पैरवी

0
नई दिल्ली। कानून की किताबों को व्यवस्थित रखने के लिए कानून मंत्रालय ने कुछ प्रकार के विधेयकों में 'सनसेट क्लॉज' या स्वत: समाप्त होने...

जलवायु वित्त लक्ष्य पर विवादों को सुलझाने के लिए राजनीतिक दिशा की जरूरत

0
नई दिल्ली: साल 2025 के बाद विकासशील देशों के जलवायु कार्यों का समर्थन करने के लिए एक नए वित्तीय लक्ष्य पर असहमति हल करने...