15.1 C
Dehradun
Tuesday, February 27, 2024
spot_img
spot_img

देश युवा बिजनेजमैन सौरव सिंह को मिला धमकी भरा ईमेल

नोएडा में सौरभ सिंह नाम के युवा बिज़नेसमैंन ने सोशल मीडिया पर एक पत्र जारी कर उत्तर प्रदेश पुलिस नोएडा पुलिस को टैग किया है पत्र में उन्होंने कहा है कि उन पर और उसके साथ के लोगो नजर रखी जा रही है । और अगर उसके बारे में और गतिविधियां दिखाई दे तो उसका दंड उसे भुगतना पड़ सकता है और वह धमकी देने वाले को जब तक जानेगा तब तक वो उसकी पहुंच से बहुत दूर होगा ।

सौरभ सिंह ने लिखा कि अन्तिम चांस देने के नाम पर मुझे कल 06.02.23 को गुमनाम ईमेल प्राप्त हुआ है, जिसमें मुझे व मेरे ग्रुप के सारे लोगों को मिटा दिये जाने की धमकी दी है इसी सन्दर्भ में कुछ माह पूर्व मेरे घर का CCTV सिस्टम क्षतिग्रस्त किये जाने तथा उसके बाद फोन पर तथा सोशल मीडिया के माध्यम से मुझे मिल रही जान से मारने की धमकियों के सम्बंध में थानाप्रभारी 113, नोएडा तथा उच्चाधिकारियों को अनेक सबूत सहित शिकायतें दी गई हैं । उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर सम्मिट से ठीक पहले इस तरह की धमकी के आने के बाद नोएडा पुलिस के सामने चुनौती खड़ी हो गई है ।

सौरभ सिंह ने अपने तीसरे ट्वीट में मीडिया के कुछ पत्रकारों पर भी आरोप लगाए हैं उन्होंने लिखा कि मुझे लगातार कुछ पत्रकारों के माध्यम से ब्लैकमेल व बदनाम किये जाने का कुत्सित प्रयास भी हुआ है | मुझे मिल रही धमकियों और ब्लैकमेलिंग की अगर गहनता से जांच की जाय तो सूत्रधार का पता चल सकता है।

इस प्रकरण पर सौरभ सिंह के दावे में सच्चाई भी नजर आती है क्योंकि जिले के एक समाचार पत्र ने बीते दिनों सौरभ सिंह को एक ऐसे मामले में मुख्य आरोपी बताकर भ्रामक समाचार प्रकाशित किया गया था । समाचार और संदर्भ प्रकरण की गहनता से जांच के बाद पता लगा कि सौरभ सिंह उक्त मामले में भी सीधे आरोपी नहीं थे और जिस FIR के नाम पर उनको फ्रेम किया गया उस FIR पर पुलिस पहले ही एफआर रिपोर्ट एफआर लगा चुकी थी जिसकी सुनवाई न्यायालय में होनी थी और यह माना गया कि ऐसे समाचार के जरिए पुलिस और न्यायालय दोनों को प्रभावित करने की कोशिश की गई ।

रोचक बात ये थी कि समाचार में F.i.r. में लिखी जानकारी से उलट सौरभ सिंह को ना सिर्फ धोखेबाज बताया गया बल्कि उनको नेताओं को सुरा सुंदरी सप्लाई करने वाला भी बता दिया गया जिसको सीधे-सीधे पत्रकारिता के नैतिक नियमों का उल्लंघन भी कहा जा सकता है या फिर किसी एजेंडे के तहत लिखी लिखा गया समाचार माना जा सकता है ।

इस मामले में सौरभ सिंह और उस प्रकरण में सामने आए पक्षकार के पुराने ट्विट्स को खंगाला तो यह पता लगा कि वह झगड़ा किसी कंपनी के आपस में साझेदारों के बीच था जिसमें कंपनी के निदेशको ने बोर्ड मीटिंग कर एक निदेशक के खिलाफ पैसे के गबन के आरोप लगाए थे और एफआईआर की थी, जिसमे निदेशक के खिलाफ चार्ज शीट हो गई थी । बाद में आरोपी निदेशक ने अपने जानकर सौरभ सिंह से मामले को सुलझवाने की कोशिश की जिस पर सौरभ सिंह ने व्हाट्सएप पर जवाब दिया कि वह बाकी बोर्ड मेंबर से रिक्वेस्ट कर सकते हैं लेकिन सीधा हस्तक्षेप नहीं कर सकते हैं क्योंकि वह उनकी कंपनी में कोई प्रभाव नहीं रखते हैं ।

माना जा रहा है कि इसी के बाद आरोपी निदेशक ने सौरभ को दोषी माना और कंपनी के बाकी निदेशको के साथ साथ सौरभ सिंह को तथा एक अन्य महिला एचआर कर्मचारी को आरोपी बनाते हुए उनके खिलाफ एफ आई आर दर्ज की जिसके जिसके लिए उन्हें कोर्ट से 156/3 में अनुमति मिली । क्योंकि उन पर चार्जशीट लगी होने के कारण पुलिस सीधे शिकायत दर्ज नही कर सकती थी । कोर्ट से अनुमति के बाद पुलिस ने जनवरी के प्रथम सप्ताह में जांच कर फाइनल रिपोर्ट लगा दी थी, जिसकी इसी बीते शनिवार 4 फरवरी को सुनवाई होनी थी और माना जा रहा है कि इस सुनवाई को प्रभावित करने के लिए ऐसे समाचार प्रकाशित करवाया गया सौरभ सिंह की छवि धूमिल हो और जिसका जिक्र सौरव सिंह अपने ट्वीट में कर चुके हैं।

spot_img

Related Articles

Latest Articles

टनकपुर, काशीपुर व कोटद्वार रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास से आमजन को मिलेंगी अत्याधुनिक सुविधाएं:...

0
देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को देहरादून स्थित विधानसभा भवन से टनकपुर, काशीपुर व कोटद्वार रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास शिलान्यास समारोह में...

उत्तराखंड विधानसभा का बजट सत्र शुरू, राज्यपाल के अभिभाषण के साथ बजट सत्र की...

0
देहरादून: उत्तराखंड विधानसभा का बजट सत्र का आज पहला दिन है। सदन में राज्यपाल के अभिभाषण के साथ सत्र की शुरुआत हुई। राज्यपाल के...

नव नियुक्त पदाधिकारी दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा देने के साथ ही पशुपालकों की समृद्धि...

0
देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा रविवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक सदन में 7 जनपदों अल्मोडा, चम्पावत, पिथौरागढ, ऊधमसिंह नगर, देहरादून, चमोली...

उत्तराखण्ड की कई विभूतियों, पर्यटक स्थलों आदि को भी मन की बात में समय...

0
देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को रायपुर विधान सभा के अन्तर्गत आने वाले हर्षिल एन्क्लेव बूथ नम्बर-4 चाणक्य काॅलेज कैम्पस गुजराड़ा मानसिंह...

ऊर्जा प्रदेश में बेहतर हो रही बिजली सेवाएं…टोल फ्री नंबर पर घर बैठे हो...

0
देहरादून: ऊर्जा प्रदेश कहे जाने वाले उत्तराखण्ड में प्रदेश सरकार बिजली उपभोक्ताओं से जुड़ी सेवाओं को लगातार बेहतर करने के प्रयास में जुटी हुई...